chessbase india logo

जू वेंजुन बनी फिर विश्व महिला शतरंज चैम्पियन

25/11/2018 -

खानती मनसीस्क , रूस में सम्पन्न हुई विश्व महिला शतरंज चैंपियनशिप का खिताब एक बार फिर चीन की ग्रांडमास्टर जु वेंजून नें हासिल कर लिया और साबित किया की फिलहाल विश्व शतरंज में वह सबसे मजबूत महिला खिलाड़ी है । रूस की लगनो कटरीना नें बेहद शानदार खेल दिखाया पर जु नें टाईब्रेक मुक़ाबले में अपनी महारत दिखाते हुए खिताब पुनः अपने नाम कर लिया । सबसे पहले हुए चार क्लासिकल मुक़ाबले में पहले तीन राउंड के बाद जु 2-1 से पीछे चल रही थी पर अंतिम मुक़ाबला जीतकर उन्होने खेल को टाईब्रेकर में पहुंचा दिया । टाईब्रेक मुक़ाबले में जु नें लगभग एकतरफा अंदाज में लगनो कटरीना को पराजित कर दिया और दूसरी बार विश्व चैम्पियन का तमगा हासिल कर लिया 

पंजाब के अरविंदर प्रीत बने नेशनल अमेच्यौर चैम्पियन

18/11/2018 -

जालंधर में हुई सातवीं नेशनल अमेच्यौर का खिताब बेहद रोमांचक अंदाज में मौजूदा विश्व अमेच्यौर चैम्पियन अरविंदर प्रीत सिंह नें अपने नाम कर लिया । पंजाब केसरी द्वारा प्रायोजित पंजाब में हुई इस स्पर्धा में पंजाब के खिलाड़ियों नें शानदार प्रदर्शन किया और शीर्ष तीन में से दो खिलाड़ी पंजाब के रहे । प्रतियोगिता का अंत बेहद रोमांचक रहा जब विजेता बनने वाले अरविंदर नें खराब शुरुआत के बावजूद लगातार 6 मैच जीतकर खिताब अपने नाम किया जबकि अंत तक बढ़त बनाए हुए पंजाब के ही शुभम शुक्ला जम्मू कश्मीर के सोहम कोमात्रा से लगभग ड्रॉ मुक़ाबला हारकर तीसरे स्थान पर सरक गए । खैर जालंधर में हुई इस प्रतियोगिता नें यह बात भी साबित की धीरे धीरे पंजाब राज्य शतरंज में तेजी से आगे बढ़ रहा है और इसके पीछे पंजाब केसरी समूह का काफी बड़ा योगदान है । पढे यह लेख 

पंजाब केसरी नेशनल अमेच्यौर - शुभम शुक्ला सबसे आगे

15/11/2018 -

जालंधर में चल रही सातवी राष्ट्रीय अमेच्यौर शतरंज स्पर्धा में हर राउंड में बदलते समीकरणों के बीच 9 राउंड के बाद पंजाब के शुभम शुक्ला 7.5 अंको के साथ एकल बढ़त पर चल रहे है । जबकि उनके ठीक पीछे मौजूदा विश्व शतरंज चैम्पियन पंजाब के ही अरविंदर प्रीत सिंग ,राम प्रकाश जैसे खिलाड़ी सयुंक्त दूसरे स्थान पर चल रहे । हालांकि महाराष्ट्र के इंद्रजीत महिंदरकर ,जम्मू कश्मीर के सोहम कामोत्रा और बंगाल के सम्राट घोरई भी 7 अंको के साथ सयुंक्त दूसरे स्थान के साथ साथ खिताब के भी दावेदार है । अब पूरी तरह से विजेता का नाम इस बात पर निर्भर होगा की कौन अंतिम दो राउंड में दबाव से बचकर अपना बेहतरीन खेल दिखाता है । खैर बात करे आयोजन की तो पंजाब केसरी समूह नें एक बार फिर शतरंज खेल के लिए अपना सम्मान दिखाते हुए शानदार इंतजाम किए है और खेल को पंजाब राज्य में एक बड़े स्तर पर आगे ले जाने का काम किया है । पढे यह लेख 

विश्व महिला शतरंज - हरिका द्रोणावल्ली भी हुई बाहर

11/11/2018 -

 खानती मनसीस्क, रूस में भारतीय ग्रांड मास्टर हरिका द्रोणावल्ली की रूस की पूर्व विश्व चैम्पियन अलेक्ज़ेंड्रा कोस्टिनियुक के हाथो हार के बाद विश्व महिला शतरंज चैंपियनशिप में भारतीय चुनौती समाप्त हो गयी है । आज हुए टाईब्रेक मुक़ाबले में पहले ही रैपिड में हरिका को हार का समाना करना पड़ा और वह 1-0 से पिछड़ गयी । मुक़ाबले में बने रहने के लिए उन्हे हर हाल में अगला रैपिड जीतना था और उन्होने उसे जीतकर खुद को दौड़ में बनाए रखा । पर उसके बाद उन्हे टाईब्रेक के और छोटे फॉर्मेट में पहले हार का सामना करना पड़ा और फिर अंतिम बाजी ड्रॉ हो गयी । और इस तरह हरिका 3.5-2.5 से पराजित होकर विश्व चैंपियनशिप में अपना पिछला प्रदर्शन नहीं दोहरा सकीं । भारत की ओर से पहले ही कोनेरु हम्पी ,पदमिनी राऊत और भक्ति कुलकर्णी विश्व चैंपियनशिप से बाहर हो चुकी थी । पढे यह लेख । 

विश्व महिला शतरंज:हम्पी हुई बाहर,हारिका अंतिम 16 में

08/11/2018 -

खानती मनसीस्क,रूस में चल रही फीडे विश्व महिला शतरंज चैंपियनशिप का राउंड 2 आखिरकार जाते जाते भारत के खाते में दीपावली के अवसर पर खुश होने का एक मौका तो दे ही गया ।भारत की ग्रांड मास्टर हरिका द्रोणावल्ली नें जॉर्जिया की बेला खोटेश्विली  को 2.5-1.5 से पराजित करते हुए अंतिम 16 खिलाड़ियों मे अपनी जगह बना ली । टाईब्रेक की माहिर माने जाने वाली हारिका नें लगातार दूसरे राउंड में एक बार फिर टाईब्रेक के सहारे अंतिम राउंड में जगह बनाई । इससे पहले भारत को शीर्ष खिलाड़ी कोनेरु हम्पी के प्रतियोगिता से बाहर होने से भारत को जोरदार झटका लगा । पोलैंड की जोलांटा के हाथो अप्रत्याशित हार हम्पी के विश्व चैंपियनशिप से बाहर होने का कारण बनी तो अब हम्पी पद्मिनी और भक्ति के बाहर होने के बाद अब हरिका पर ही भारत की सभी उम्मीद टिकी हुई है । पढे यह लेख डबल्यूआईएम एंजेला की मैच विश्लेषण के साथ । 

विश्व महिला शतरंज 02- हम्पी -हरिका दोनों ने खेला ड्रॉ

07/11/2018 -

खानती मनसीस्क , रूस में कम तापमान के बीच दूसरे राउंड का पहला मुक़ाबला बिना किसी गर्माहट के समाप्त हुआ और भारत की दोनों ग्रांडमास्टर कोनेरु हम्पी और हरिका द्रोणावल्ली नें अपने अपने मुक़ाबले ड्रॉ खेले । दोनों ही खिलाड़ी काले मोहरो से खेल रहे थे ऐसे में यह परिणाम उनके लिए अच्छा ही कहा जाएगा क्यूंकी अंतिम क्लासिकल मैच में उन्हे अब सफ़ेद मोहरो से खेलना होगा । खैर हम्पी नें आज पेट्रोफ डिफेंस में आसानी से पोलैंड की जोलांटा से बराबरी हासिल कर ली और एक समय वह और दबाव बनाने की कोशिश भी करने की स्थिति में थी पर लगातार मोहरो की अदला बदली नें मैच को ड्रॉ पर रोक दिया । हरिका नें  भी 64 चालों तक चले मुक़ाबले में बहुत ज़ोर लगाया पर हाथी के एंडगेम में आखिरकार मैच ड्रॉ रहा । चेसबेस हिन्दी के सीधे प्रसारण के वीडियो के साथ पढे यह लेख !हमारे सभी पाठको को शुभ दीपावली !!

विश्व महिला शतरंज - हरिका बढ़ी आगे : पद्मिनी की विदाई

05/11/2018 -

खानती मनसीस्क , रूस में पहले राउंड के बाद दो भारतीय खिलाड़ी जहां अगले दौर में पहुँच गए है जबकि दो खिलाड़ी विश्व चैंपियनशिप से बाहर हो गए । भारतीय खिलाड़ियों के आज दो टाईब्रेक मुक़ाबले खेले गए । हारिका द्रोणावल्ली को अपनी हिम्मत के अलावा अपनी  किस्मत का भी साथ मिला और पहले रैपिड ड्रॉ होने के बाद दूसरे मुक़ाबले में काफी कशमकश के बाद मैच जीतने में कामयाब रही । एक समय तो वह लगभग हार रही थी पर सोपीकों की गलत चालों नें मैच हरिका के पक्ष में कर दिया । पिछले बार अंतिम 8 में जगह बनने वाली पद्मिनी राऊत रैपिड टाईब्रेकर में पहला मैच ड्रॉ कर सकी और दूसरा मैच हारकर वह विश्व चैंपियनशिप से बाहर हो गयी अब कल होने वाले  मुक़ाबले में हरिका और हम्पी भारत का नेत्तृत्व करती नजर आएंगी । पढे यह लेख 

विश्व महिला शतरंज - हम्पी अगले दौर में,भक्ति हुई बाहर

04/11/2018 -

खानती मनसीस्क, रूस  में चल रही विश्व महिला शतरंज चैंपियनशिप में दूसरे दिन भारत के लिए एक अच्छी तो एक बुरी खबर आई, भारत की शीर्ष महिला खिलाड़ी कोनेरु हम्पी अल्जीरिया की हयात तबौल के खिलाफ बड़ी ही आसानी से अपना मैच जीतकर अंतिम 32 में पहुँच गयी है जबकि भारत की भक्ति कुलकर्णी रूस की नतालिजा पागोनिना से 1.5-0.5 से पराजित होकर प्रतियोगिता से बाहर हो गयी है ।भक्ति के लिए किसी भी कीमत में जीत जरूरी थी पर वह बहुत कोशिश कर मैच को सिर्फ ड्रॉ ही कर सकी  हरिका द्रोणावल्ली और पद्मिनी राऊत नें अपने दोनों मैच ड्रॉ खेलकर टाईब्रेकर में प्रवेश कर लिया है और अब कल जब वह फटाफट शतरंज के इस फॉर्मेट में खेलेंगी तो सिर्फ जीत ही एकमात्र रास्ता होगा अगले दौर में प्रवेश करने के लिए । 

विश्व महिला शतरंज - जीत के साथ की हम्पी ने शुरुआत

03/11/2018 -

विश्व महिला शतरंज चैंपियनशिप के पहले दिन भारत के खाते में 1 जीत दो ड्रॉ और 1 हार आई । उम्मीद के मुताबिक कोनेरु हम्पी नें एक आसान सी जीत दर्ज की तो हरिका अच्छी स्थिति के बाद भी खेल को जीत नहीं सकी और मैच ड्रॉ रहा । पद्मिनी राऊत नें ड्रॉ खेला तो भक्ति को आज हार का सामना करना पड़ा ।  नाक आउट आधार से खेली जाने वाली इस प्रतियोगिता में हर खिलाड़ी को हर राउंड में काले और सफ़ेद मोहरो से एक एक क्लासिकल मैच खेलने का मौका मिलना है ऐसे में अगले राउंड में जाने के लिए कल हम्पी को सिर्फ ड्रॉ , हारिका और पद्मिनी को जीत की जरूरत है जबकि टाईब्रेक में प्रवेश करने के लिए भक्ति के पास जीतने के अलावा कोई और रास्ता नहीं है ।  आज प्रतियोगिता के सीधे विश्लेषण और प्रसारण को चेसबेस हिन्दी यू ट्यूब चैनल पर प्रसारित किया गया पढे यह लेख । 

आइल ऑफ मैन 2018 - अधिबन रहे आठवे स्थान पर

29/10/2018 -

विश्व के सबसे प्रतिष्ठित ओपन टूर्नामेंट में से एक आइल ऑफ मैन शतरंज चैंपियनशिप का समापन पोलैंड के ग्रांड मास्टर राडोस्लाव वोइटाचेक के विजेता बनने के साथ हो गया ,नौवे राउंड मे उन्होने अजरबैजान के अकार्दी नाइडिश से ड्रॉ खेला पर बेहतर टाईब्रेक और अंतिम राउंड में उनके नजदीकी 6 अंको पर खेल रहे अमेरिका के जेफ्री जियांग, फ्रांस के मेक्सिम लाग्रेव ,चीन के वांग हाऊ ,और इंग्लैंड के गाविन जोन्स के जीत दर्ज ना कर पाना भी उनके जीत के पीछे एक कारण रहा । खैर उनकी जीवनसाथी अलिना नें भी शानदार प्रदर्शन करते हुए महिला वर्ग का प्रथम पुरूष्कार अपने नाम किया। भारत के लिए अधिबन भास्करन नें अंतिम राउंड में मेजबान इंग्लैंड के दिग्गज खिलाड़ी माइकल एडम्स को पराजित करते हुए शीर्ष 10 में जगह बनाई और भारत की और से वह शीर्ष पर रहे । विश्वनाथन आनंद नें चीन के वांग हाउ से ,सेथुरमन नें नीदरलैंड के अनीश गिरि से ,तो विदित गुजराती नें अर्मेनिया के हरांत मेलकुबयन से ड्रॉ खेलते हुए शीर्ष 25 में अपना स्थान सुनिश्चित किया । पढे यह लेख 

गोवा इंटरनेशनल - अंकित गजवा का असाधारण प्रदर्शन

18/10/2018 -

गोवा में चल रहे ग्रांड मास्टर शतरंज चैंपियनशिप में पिछले दो दिन  बड़े उलटफेर भरे रहे और  और टॉप सीड मार्टिन क्राव्टसिव को पहले अर्मेनिया के लेवान बाबूजियन और फिर भारत के अंकित गजवा के हाथो  पराजय से उनके गुजरात के बाद गोवा का खिताब जीतने की संभावना पूरी तरह से खत्म हो गयी है । दरअसल पिछले तीनों राउंड एक प्रकार से भारत के अंकित गजवा के नाम रहे जब उन्होने क्रमशः तीन ग्रांड मास्टर हिमांशु शर्मा ,मार्टिन क्राव्टसिव और जियौर रहमान को पराजित करते हुए बेहद ही आसधारण प्रदर्शन कर दिखाया और सीधे सयुंक्त बढ़त पर जा पहुंचे है । खैर राउंड 7 के बाद  ईरान के इदानी पौया ,उक्रेन के सिवुक विताली ,उक्रेन के वेलेरिय नोवेरोव और विटालिय ब्रेनदविसकी ,भारत के दीपन चक्रवर्ती,अर्मेनिया के लेवान बाबूजियन 6 अंको के साथ सयुंक्त बढ़त पर चल रहे है । । खैर गोवा इंटरनेशनल के वर्ग बी का समापन महाराष्ट्र के ओंकार जादव की जीत के साथ हुआ । ओंकार नें बेहतर टाईब्रेक एक आधार पर शानदार ट्रॉफी और 140000 रुपेय अपने नाम किए । दूसरे स्थान पर हिमाचल के विजय कुमार तो तीसरे स्थान पर आसाम के राहुल सिंग सोरम रहे । पढे यह लेख 

 

गोवा इंटरनेशनल - अनुराग दीपन और स्टेनी को सयुंक्त बढ़त

16/10/2018 - गोवा के डॉ श्यामा प्रसाद मुखर्जी इंडोर स्टेडियम में चल रहे गोवा इंटरनेशनल ग्रांडमास्टर शतरंज चैंपियनशिप में चार राउंड के बाद भारत के दीपन चक्रवर्ती , स्टेनी जीए और अनुराग महामल अपने सभी चारो मैच जीतकर सयुंक्त पहले स्थान पर आ गए है । टॉप सीड उक्रेन के मार्टिन क्राव्टसिव नें उक्रेन के ही वेलेरिय नोवेरोव से ड्रॉ खेला और इसके साथ ही 3.5 अंको के साथ वह दूसरे स्थान पर चले गए है। विदेशी खिलाड़ियों में ईरान के इदानी पौया,अर्मेनिया के सहकायन समवेल ,बांग्लादेश के जियौर रहमान , बेलारूस के सेरगी कास्पारोव और उक्रेन के सिवुक विताली  भी चारों मैच जीतकर 4 अंक बनाते हुए संयुक्त बढ़त पर चल रहे है । खैर राउंड 4 के सबसे रोचक मैच में सबसे चर्चित मैच रहा अनिरुद्ध देशपांडे और अनुराग महामाल के बीच जिसमें लगभग जीती हुई बाजी पहले तो अनुराग नें लगभग हारी हुई स्थिति में पहुंचा दी पर अनिरुद्ध नें भी बेहतरीन खेल दिखाकर जीत के पास जाकर भी अंत में एक खराब चाल से मैच गवां दिया । 

गुजरात इंटरनेशनल - मार्टिन नें जीता खिताब ,विघनेश उपविजेता !

14/10/2018 -

अहमदाबाद , गुजरात में 16 देशो के 250 खिलाड़ियों के बीच चल रहे गुजरात इंटरनेशनल शतरंज चैंपियनशिप का खिताब उक्रेन के ग्रांड मास्टर और प्रतियोगिता के टॉप सीड  मार्टिन क्राव्टसिव  नें जीत लिया । उन्होने अंतिम राउंड में सिसिलियन रोजोलिमों ओपनिंग में भारत के विघनेश एनआर को पराजित करते हुए लगातार तीसरी जीत दर्ज करते हुए कुल 8.5 अंको के साथ खिताब अपने नाम कर लिया । खैर विघनेश नें 8 अंक के साथ उपविजेता का स्थान हासिल किया । और  8 ही अंको के साथ भारत के जीए स्टेनी टाईब्रेक के आधार पर तीसरे स्थान पर रहे ,अंतिम राउंड में उन्होने बेलारूस के वादिम मलखटकोव को हार का स्वाद चखाया । उनके अलावा भारत के हर्षा भारतकोठी छठे तो कार्तिक वेंकटरमन 11 वे स्थान पर रहे । अंतिम राउंड में ग्रांडमास्टर ललित बाबू की हार बड़ी चर्चा का विषय रही । खैर प्रतियोगिता अपने शानदार इंतज़ामों की वजह से सभी खिलाड़ियों को आकर्षित करने में सफल रही और लगभग हर खिलाड़ी नें एक बार फिर गुजरात आने और खेलने की इच्छा जताई तो अगले संस्करण की उम्मीद लिए गुजरात का यह बड़ा आयोजन सफलतापूर्वक खत्म हुआ । तस्वीरों और विडियो के जरिये गुजरात का अनुभव लेते हुए पढे यह लेख 

गुजरात इंटरनेशनल - स्टेनी को विघनेश का झटका , गरबा के रंग में रंगे खिलाड़ी

11/10/2018 -

गुजरात इंटरनेशनल ग्रांडमास्टर शतरंज का आठवाँ राउंड प्रतियोगिता को और रोमांचक बना गया है और अब देखना होगा की अंतिम दो राउंड में कौन विजेता बन के सामने आता है । राउंड आठ में सबसे आगे चल रहे स्टेनी जीए को हमवतन विघनेश एनआर नें पराजित करते हुए उनकी एकल बढ़त खत्म कर दी और अब दोनों सयुंक्त बढ़त पर है। खैर स्टेनी के लिए अच्छी बात यह है की 9वे राउंड का मैच खेलते साथ ही वह अपना दूसरा ग्रांड मास्टर नार्म हासिल कर लेंगे ,उनके अलावा विघनेश का भी ग्रांड मास्टर नार्म लगभग तय है।अंतिम दो राउंड में निश्चित तौर पर हमें कड़े मुक़ाबले देखने को मिलेंगे।खैर उनके अलावा मैच के बाद आयोजको नें खिलाड़ियों को गरबा उत्सव में ले जाकर गुजरात की संस्कृति से सभी का परिचय कराया । रंग बिरंगी पोशाकों में  गरबा का महौल देखते ही बनता था और सभी नें शतरंज के काले और सफ़ेद रंगो में जैसे सारे रंग भर दिये । पढे यह लेख ।